EDUCATION

बेहतर समरी / सारांश कैसे लिखे- बहुमूल्य सुझाव

बेहतर समरी / सारांश कैसे लिखे- बहुमूल्य सुझाव ।

संक्षिप्त विवरण कहें, सारांश या फिर समरी । स्क्रिप्ट राइटिंग हो, हमारे स्कूल-कॉलेज की पढ़ाई हो, पटकथा हो, आम लेखक हों, फिल्मी जगत के लेखक हों, छात्र-छात्राओं और लेखकों का कोई जरूरी असाईनमेंट हो, हर किसी को समरी या संक्षिप्त विवरण की जरूरत होती है।

जहाँ भी लिखने का कार्य होता है वहाँ संक्षिप्त में विवरण लिखने की आवश्यकता होना अति महत्वपूर्ण होता है।
ज्यादातर लोगों को स्टोरी, लेख या मैसेज को संक्षिप्त करने में या फिर बेहतर ढंग से संक्षिप्त करने में तकलीफ का सामना करना पड़ता है।
इस लेख में नीचे बताई गयीं महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखते हुये हम किसी भी मैसेज, स्टोरी या महत्वपूर्ण सूचनाओं की संक्षिप्त विधि तैयार कर सकते है।

EDUCATION
बेहतर समरी लिखने के लिए इन नियमों का पालन करें ।

लेख को सरसरी नजर से पढ़े –

सर्वप्रथम पूरे लेख को सरसरी नजर से पढ़े।
सम्पूर्ण हैडिंग्स और सव-हैडिंग्स को ध्यान में रखते हुये यह जानने की कोशिश करें कि आखिर लेख के माध्यम से, लेखक हमें क्या संदेश पहुँचाना चाहता है।
लेखक के दिमाग और सोच के अनुसार उसके लेख को पढ़ने की कोशिश करें । यह साचे कि लेखक इस लेख के माध्यम से क्या कहाना चाह रहा है।

 

प्रश्नवाचक शब्दों का उपयोग करें

आप बुक का पाठ कोई आर्टिकल या और भी कोई अन्य लेख पढ़ रहे हैं जिसकी आपको समरी लिखनी है।
तब आप क्या, कैसे, क्यों , कब, किसलिए, किसने, इन प्रश्नवाचक शब्दों का उपयोग करें
ये आपको एक बेहतर समरी लिखने में मद्द करेंगें
आपने जो पढ़ा उसमें क्या हो रहा है ?
कौन क्या कर रहा है ?
किसने किससे क्या कहा ? आदि प्रश्न करें

 

लेख हाईलाइट करें और नोट्स बनायें-

समरी हमेशा संक्षिप्त रूप में होनी चाहिए तथा संक्षिप्त रूप देते समय महत्वपूर्ण सूचनाओं को हाईलाइट करें और नोट्स बनाना आरंभ करें। ध्यान रखें कि ऐसा करते वक्त जरूरी सूचनायें नहीं छूटनी चाहिए।

 

खुद के शब्दों में लिखें –

ज्यादातर व एक अच्छी समरी लिखते समय इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि सही एवं स्वयं के शब्दों का ही चयन करें।
यह बेहतर समरी तैयार करने का बेहतर तरीका है। अतएव जो भी बिंदु- विशेष आप लिखना चाहते हो वह सब अपने शब्दों में होना ज्यादा अनिवार्य है।
परंतु इस बात का विशेष ध्यान रखें कि कुछ भी ऐसी जानकारी आप अपने आप से न जोड़े जो लेख में नहीं है या जिसका संबंध नहीं है।

 

अधूरी जानकारी न लिखें –

हैडिंग्स या फिर सब हैडिंग्स का चुनाब करते समय यह खास ख्याल रखना चाहिए कि कहीं कुछ महत्वपूर्ण जानकारी छूट तो नहीं रही है। संक्षिप्त रूप प्रदान करते समय कई बार हमसे यह गलतियाँ हो जाती हैं कि हम समरी छोटा करने के चक्कर में महत्वपूर्ण जानकारियाँ तक छोड़ देते है।

समरी की लंबाई-

समरी लिखते समय अक्सर यह सवाल मन में आता है कि समरी कितनी बड़ी लिखी जाये। आपका जो वास्तविक लेख है उसकी लगभग 1/4 लंबाई तक आप समरी लिखें । यह लंबाई किसी भी प्रकार की समरी लिखने के लिए उचित बताई जाती है।
कई परिक्षाओं में प्रश्न -पत्र में ही यह स्पष्ट किया होता है कि आपको समरी कितने शब्दों में लिखनी है तब आप उसके अनुसार लिखें।

 

उचित व अनुचित का चयन करें –

हमेशा वही लिखें जो मैसेज के लिए उचित जानकारी रखता हो। अनुचित का चुनाव कतई न करें। यह आपकी संक्षिप्त जानकारी को गड़बड़ा सकता है।
अपनी तरफ से कोई संदेश न जोड़े, जो आपके लेख में दिया गया है उसके अनुसार ही लिखें।

 

बेहतर समरी लिखने के लिए ध्यान में रखने योग्य बातें -?

  • संक्षिप्त विसरण हमेशा मैसेज से मेल खाता हुआ हो।
  • स्वयं के शब्दों में लिखा गया हो।
  • खुद की कमेंट्स या विवरण कभी न लिखें
  • मैसेज को हमेशा संक्षिप्त रूप में लिखें।
  • महत्वपूर्ण बिंदुओं का चुनाव ध्यानपूर्वक करें।
  • अधूरी जानकारी न लिखें।

 

इन बातों को ध्यान में रखते हुये आप उचित एवं अच्छा सारांश अपने शब्दों में लिख सकते हो।

written by piyush tiwari Piyush Ashok Tiwari

 

 अगर आपके पास भी हिंदी में कोई आर्टीकल है जो आप livepathshala.com पर पोस्ट करना चाहते हैं। तो आप अपना लेख हमें भेज सकते हैं । पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ पोस्ट करेंगें। आप अपना लेख हमारे पास भेजने के लिए नीचे दी लिंक पर क्लिक करें। Post your article/ अपना लेख हमारे पास भेजने के लिए यहाँ क्लिक करें आपको यह आर्टीकल पसंद आया, तो इसे like, share and comments जरूर करें

share your thoughts

comments