प्रकाशन द्वारा आपकी किताब को स्वीकार किया जाये इसके लिए क्या करें

प्रकाशन द्वारा आपकी किताब को स्वीकार किया जाये इसके लिए क्या करें ?

एक सफल लेखक का दौर सिर्फ किताब लिखने तक खत्म नहीं हो जाता है। वह किताब लिख सकता है ।                 सफल लेखक सिर्फ इतना नहीं होता है कि वह आकर्षक कहानियों की कल्पना कर उन्हें लिख सकता है।

publisher

 

बल्कि सफल लेखक का मतलब होता है कि उसकी किताब बहुत बड़े पैमाने पर प्रकाशित हुयी हो। लेखक को लेखक होने का दर्जा तब तक नहीं दिया जा सकता जब तक कि वह अपनी किताब किसी प्रकाशन द्वारा प्रकाशित न करवा ले। प्रकाशन द्वारा आपकी किताब को स्वीकार किया जाये इसके लिए आपको निम्न बातों का ध्यान रखना होगा जो नीचे प्रासंगिक हैं।

 

 

1. आपकी किताब को प्रकाशन  क्यों प्रकाशित करे –

सबसे पहले अपने आप से प्रश्न कीजिए कि आखिर क्यों कोई आपकी किताब प्रकाशित करेगा ?

किताब लिख चुकने के उपरांत, आपको किताब किसी ऐसे मित्र, या रिस्तेदार को पढ़ने के लिए देना चाहिए जो उस पर यथार्थ टिप्पणी कर सके।

यदि उनकी टिप्पणी आपको किताब प्रकाशित करने के लिए प्रेरित करती है।

तब आप उस मुख्य उद्देश्य के बारे में जाने जिसने उन्हें किताब के प्रति बैसी टिप्पणी करने को बाध्य किया।
तत्पश्चात् आप स्वयं से यह निर्णय ले सकते हैं कि आप अपनी किताब क्यों प्रकाशित कराना चाहते हैं। अमूमन, वह उद्देश्य ही है जो आपको किताब प्रकाशित करने के लिए आपको प्रेरित करता है।

 

 

2. प्रकाशन का चयन करना –

सर्वप्रथम आपको अपने पसंदीदा प्रकाशनों का चयन करना है।                                                                          इसके बाद उनके नाम, पते, और संपर्क अपनी डायरी में नोट कर लेने चाहिए। तत्पश्चात् आप एक-एक कर सबको संपर्क करें। उसके बाद जैसा वे करने को कहें, अपनी किताब की प्रजेंटेशन अच्छे से प्रकाशक को दें।

 

 

3. संभव हो तो प्रकाशक से सीधे ही भेंट करें –

ज्यादातर लेखकों के असफल होने का सबसे बड़ा कारण है कि वे प्रकाशक से कभी भी सीधे संपर्क नहीं करते हैं।

इस कारण कभी-कभी लेखक किताब के विषय में प्रकाशक से ढंग से बात कर सकने में असफल होता है। वे अक्सर ई-मेल व फोन नंबरों के द्वारा ही प्रकाशक से मिल पाते हैं।

किंतु यदि आप सच में एक प्रभावशाली छाप प्रकाशक के मन पर छोड़ना चाहते हैं और अपने विषय को उसे अच्छी तरह समझाना चाहते हैं तो यकीनन ही आपको उससे मीटिंग फिक्स कर लेनी चाहिए।

प्रत्यक्षतः ही किताब के विषय में उसे समझायें, यह एक बेहतर व व्यक्तिगत राय है लेखकों के लिए।

 

 

4.   प्रकाशन को किताब की स्पष्ट व यथार्थ जानकारी ही दें- 

प्रकाशक वह है जो आपकी किताब को जान देकर पूरी दुनिया में उसके अस्तित्व को विखेरता है।                            इसलिए हमेशा यह याद रखें कि जब भी आपसे आपका प्रकाशक किताब के विषय में जानकारी माँगे तब आपको उसे सही व स्पष्ट जानकारी ही देनी चाहिए।

प्रकाशक को मौका दें ताकि वह आपकी किताब के विशय में अच्छी तरह समझ सके। यदि आप उसे आपकी किताब को समझने का मौका नहीं देंगे तब यकीनन ही आप एक अच्छी व सफल किताब के निर्माता नहीं बन सकते हैं।

 

 

5. एक बेहतर व स्पष्ट सारांश बनायें-

अपनी किताब पूरी लिख लेने के बाद आपको हमेशा एक बेहतर समरी तैयार कर लेनी चाहिए।

बेहतर समरी/सारांश कैसे लिखें जानने के लिए लिंक पर किल्क करें।

जब भी आपको कहीं भी अपनी किताब की प्रेजेंटेशन देनी होगी तब आप उसे अच्छी तरह प्रस्तुत कर सकते हैं।

ध्यान रहे कि सारांश ऐसा होना चाहिए कि वह आपकी संपूर्ण कहानी की संक्षिप्त किंतु पूर्ण व स्पष्ट जानकारी अवश्य रखता हो ।

बेहतर सारांश की मद्द से आप अपनी किताब की प्रस्तुतीकरण अच्छी तरह कर सकते हैं।

 

6.   कवर-डिजाइन चुनना

यदि आपकी किताब प्रकाशन ने स्वीकारी है किंतु कवर-डिजाइन वैसा नहीं है जैसा की किताब के अनुसार होना चाहिए तब यह आपकी किताब पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है ।

आप अपने प्रकाशन को उस कवर-डिजाइन के बारे में बतायें जैसा कि आपने उसे सोच रखा था । अगर आपके पास पहले से कवर-डिजाइन मौजूद है तो उसे प्रकाशन को भेजें।

अगर आपके पास कोई आईडिया नहीं है तब प्रकाशन को एक बेहतर कवर-डिजाइन चुनने में मद्द करें जो आपकी किताब की कहानी के अनुसार हो।

 

7.  किताब का मूल्य निर्धारण-

हाँलाकि यह विषय अक्सर लेखक का नहीं होता है । किंतु फिर भी यदि संभव हो सके तब आप प्रकाशन से किताब के मूल्य निर्धारण में बातचीत कर सकते हैं।

किताब का मूल्य न ज्यादा अधिक हो और न ही ज्यादा कम । बल्कि मूल्य वह होना चाहिए कि हर पाठक के लिए खरीदना मुनासिब हो सके व प्रकाशन और आप कुछ आमदानी भी बना सको।

 

इन मुख्य बातों को ध्यान में रखकर अवश्य ही हम एक सफल प्रकाशित पुस्तक की रचना कर सकते हैं ।

 

 

written by piyush tiwari       Piyush Ashok Tiwari

 अगर आपके पास भी हिंदी में कोई आर्टीकल है जो आप livepathshala.com पर पोस्ट करना चाहते हैं। तो आप अपना लेख हमें भेज सकते हैं । पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ पोस्ट करेंगें। आप अपना लेख हमारे पास भेजने के लिए नीचे दी लिंक पर क्लिक करें। Post your article/ अपना लेख हमारे पास भेजने के लिए यहाँ क्लिक करें आपको यह आर्टीकल पसंद आया, तो इसे like, share and comments जरूर करें

share your thoughts

comments